mobilenews
miraj
pc

तीर्थयात्रा के लिए साढ़े आठ हजार आवेदन की प्राथमिकता तय

| July 17, 2013 | 0 Comments

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना

170709Udaipur. वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के आवेदकों के रेण्डमाइजेशन का पहला चरण संभागीय आयुक्त डॉ.सुबोध अग्रवाल की अध्यक्षता में हुआ। कुल 8753 आवेदकों का प्राथमिकता से अस्‍थायी चयन किया गया। पहली ट्रेन 13 अगस्‍त को रामेश्‍वरम के लिए रवाना होगी।

आयुक्त डॉ. अग्रवाल एवं पुलिस महानिरीक्षक टी. सी. डामोर सहित रेण्डमाइजेशन के लिए गठित सदस्यों की मौजूदगी में निकाली गई लॉटरी में 8753 आवेदनों का अस्थायी रेण्डमाइजेशन किया गया।
बुधवार को संपन्न प्रथम चरण में रामेश्वरम तीर्थयात्रा के लिए 6760 आवेदन, जगन्नाथपुरी के लिए 1017, वैष्णोदवी के लिए 547 तथा सम्मेदशिखर के लिए 429 आवेदनों का रेंडमाइजेशन तैयार किया गया।
170708आयुक्त डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि उदयपुर संभाग में कुल 10 हजार 267 आवेदनों का लॉटरी से प्राथमिकता क्रम तय किया जाएगा। प्रथम चरण में बुधवार को उदयपुर जिले से जगन्नाथपुरी के लिए 509, रामेश्वरम के लिए 3092, वैष्णोदेवी के 382 तथा सम्मेद शिखर के लिए 226 आवेदकों, चित्तौड़गढ़ से जगन्नाथपुरी के 224, रामेश्वरम के 1135, वैष्णोदेवी के 37 तथा सम्मेदशिखर के 44 आवेदनों, राजसमन्द के जगन्नाथपुरी हेतु 145, रामेश्वरम 447, वैष्णोदेवी के 12 तथा सम्मेदशिखर के 18, प्रतापगढ़ से जगन्नाथपुरी हेतु 39, रामेश्वरम 831, वैष्णोदेवी के 39 तथा सम्मेदशिखर के 41, बांसवाडा़ से जगन्नाथपुरी हेतु 45, रामेश्वरम 601, वैष्णोदेवी तथा सम्मेद शिखर के 51-51, डूंगरपुर से जगन्नाथपुरी हेतु 55, रामेश्वरम 654, वैष्णोदेवी के 26 तथा सम्मेद शिखर के 52 आवेदनों का अस्थाई तौर पर रेंडमाइजेशन हुआ।
इसमें जिलेवार प्राथमिकता तय करते हुए आवेदकों को यात्रा का अवसर दिया जाएगा। आयुक्त ने बताया कि राजस्थान की अतिमहत्वपूर्ण योजना के लिए राज्य देवस्थान विभाग एवं आईआरसीटीसी तथा अन्य विभागों में अच्छे समन्वय से तीर्थयात्रियों को उत्तम सुविधायुक्त यात्रा के प्रयास किये जा रहे हैं। बैठक में अतिरिक्ति संभागीय आयुक्त प्रज्ञा केवलरमानी, एनआईसी के तकनीकी निदेशक जितेन्द्र वर्मा, आरसीएचओ डॉ. रमेश चन्द्र शर्मा, एनआईसी के अतिरिक्त निदेशक मजहर हुसैन सहित पर्यटन, जनसम्पर्क आदि विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
देवस्थान विभाग की सहायक आयुक्त डॉ. प्रियंका भट्ट ने बताया कि रेंडमाइजेशन का द्वितीय एवं अंतिम चरण 19 जुलाई को तिरुपति, गया- काशी, अमृतसर, गोवा, द्वारिकापुरी, बिहार शरीफ तथा शिरडी के लिए होगा जिसमें संभाग के 1514 अन्य आवेदनों को शामिल किया जाएगा। साथ ही अन्य आक्षेपों का भी निस्तारण बैठक में होगा। बैठक शुक्रवार दोपहर 12 बजे संभागीय आयुक्त की अध्यक्षता में होगी।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education