mobilenews
miraj
pc

सडक़ों की समस्या समाधान के लिए बच्चों ने दिए प्रजेन्टेशन

| January 15, 2014 | 0 Comments

बाल जनागृह सिटी लेवल फेस्ट-2013-14

150107उदयपुर। आठवीं कक्षा के बच्चों ने शहर की सडक़ों का चयन कर उसके न सिर्फ संभावित समाधान सुझाए बल्कि उन पर प्रजेन्टेशन बनाकर प्रोजेक्ट भी प्रस्तुत किया। यह आयोजन उदयपुर सिटी फेस्ट के नाम से बुधवार को फतहपुरा स्थित आलोक स्कूल में बेंगलोर के बाल जनागृह की ओर से किया गया।

कार्यक्रम में शहर के दस स्कूलों के आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। विद्यार्थियों को शहर की किसी भी एक रोड का चयन कर उसकी समस्याओं का पता लगाने और उसके लिए संभावित हल सुझाने का प्रोजेक्ट दिया गया था। विद्यार्थी अपने अपने प्रोजेक्ट के साथ आए और अपना प्रजेन्टेशन दिया।
शहर में कई जगह सडक़ों पर गड्ढे बने हैं। बारिश में ये गड्ढे वाहन चालकों के लिए और मुसीबत बन जाते हैं। प्रशासन को जरूरी है कि वह गंभीरता दिखाते हुए इस पर ध्यान दें। कुछ ऐसे सवाल विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने बुधवार को आलोक स्कूल में हमारी सडक़ें विषयक प्रतियोगिता में उठाए थे।
समस्याओं पर प्रशासन भी गंभीरता दिखाए -कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राज्य सरकार में चीफ कॉर्डिनेटर एजुकेशन एच.एस.संचेती ने टीमों द्वारा दिए गए प्रजेंटेशन की तारीफ करते हुए कहा कि बच्चों को अपना प्रजेंटेशन के चार्ट व चित्र के रिकॉर्ड संभाल कर रखें, क्योंकि ये भविष्य में काम देंगे। अरबन डिजाइनर बेणूगोपाल ने कहा कि प्रशासन को शहर की समस्याओं पर गंभीरता से ध्यान देकर समाधान करना चाहिए। झीलों के इस शहर देश-विदेश से बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। शहर अच्छा-खूबसूरत होगा तो विश्व में भारत की पहचान बनेगी। कार्यक्रम के अंत में अतिथियों ने विजेता विद्यार्थियों को पुरस्कार प्रदान किए।
बताई समस्याएं और सुझाव-प्रिजेंटेशन के दौरान बच्चों ने बताया कि शहर के कई हिस्सों में डे्रेनेज और सीवरेज सिस्टम सही नहीं है। गार्डन और गली-मोहल्लों में भी गंदगी रहती है। सडक़ों पर गड्ढे होने से वाहन चालकों को परेशानी होती है। बच्चों ने सुझाव भी दिए कि सभी को पौधे लगाने चाहिए, कचरा को कचरा पात्र में फेंकना चाहिए। तथा यातायात नियम की पालना करनी चाहिए।
फेस्ट में टेलेंट एकेडमी पुलां स्कूल प्रथम, राजकीय कन्या उमावि गरीब नगर द्वितीय एवं नोबल इंटरनेशनल स्कूल तृतीय रहा। अतिथियों के रूप में सेवानिवृत्त मुख्य नगरीय प्लानर एच एस संचेती एवं नगरीय प्लानर वेणुगोपाल ने प्रोजेक्ट रिपोर्ट एवं प्रजेन्टेशन का अवलोकन किया। इस अवसर पर बाला जनाग्रह बेंगलोर की प्रतिनिधि माधवी तोरानी ने सभी आगंतुक स्कूलों एवं मेजबान आलोक स्कूल का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में आलोक फतहपुरा स्कूल की प्राचार्या उषा कुमावत भी विशिष्ठ अतिथि के तौर पर उपस्थित थी। उन्होंने बताया कि विजेता टीम 7 फरवरी को बेंगलोर में होने वाले राष्ट्रीय स्तर के फेस्ट में हिस्सा लेगी।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education