mobilenews
miraj
pc

31 हजार दीपकों से होगी भगवान जगन्नाथ की महाआरती

| June 16, 2017 | 0 Comments

101 किलो गुलाब की पत्तियों से होगा दोनों रथों का भव्य स्वागत

उदयपुर। 25 जून को निकलने वाली जगन्नाथ रथ यात्रा में जगन्नाथ रथ यात्रा समिति व आलोक संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में बापू बाजार में होने वाली भव्य महाआरती का आयोजन जनभावना के अनुरूप भव्य और बड़े पैमाने पर प्रभावी प्रबंधन के साथ किया जायेगा।

महाआरती के संयोजक डॉ. प्रदीप कुमावत ने बताया कि 31 हजार दीपकों से भव्य महाआरती के आयोजन के साथ ही 101 किलो गुलाब की पत्तियों से दोनों रथों का भव्य स्वागत और अभिनंदन किया जायेगा। संगठनांे की श्रद्धा व भावना के अनुरूप बापू बाजार में खुली सड़क पर सभी को स्वामी के रथ खींचने का अवसर मिलेगा। दूसरी ओर पूरी श्रद्धा भाव से आरती करने का समय भी प्राप्त होगा। मंदिर, अखाड़ो तथा धार्मिक संगठनों के साथ इस बार सामाजिक संगठनों से भी अपील की गई है कि वह इस वार्शिक उत्सव में जहाँ राश्ट्रीय एकता साम्प्रदायिक एकता की मिसाल के रूप् में रथ यात्रा को देखा जाता है उसमें सम्मिलित होकर जन-जन तक संदेष पहुँचाये।
आशाढ़ कृश्णा अमावस्या को होगा मंदिर मार्जन
डॉ. प्रदीप कुमावत ने बताया कि जगन्नाथ पुरी की परंपरा पर भगवान जगन्नाथ के रथ के आगे राजा महाराजाओं द्वारा झाडू लगाकर समानता का संदेष दिया जाता है वहीं भारत सरकार द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छ भारत अभियान की प्रेरणा भी यहीं जगन्नाथ रथ यात्रा है। इसी यात्रा से पहले भगवान जगन्नाथ के मंदिर का सब तीर्थाें से लाए जलो से मार्जिन किया जाता है। इसी परंपरा के अनुरूप जगन्नाथ धाम सेक्टर-7 में आशाढ़ कृश्ण अमावस्या के दिन इस्कॉन भक्त मंडल मिलकर मंदिर का मार्जन करेंगे तथा कीर्तन कर स्वच्छता के संदेष को जन-जन तक पहुँचाएंगे। इस बीच विभिन्न समाजों से व्यापक संपर्क अभियान के अंतर्गत आज यहाँ भूपेन्द्रसिंह भाटी, षिवसिंह सोलंकी, गिरिष षर्मा, हरीष तोशनीवाल, गोपाल सेनी द्वारा सवीना क्षेत्र में संपर्क किया गया। रथ यात्रा को लेकर लोगों में भारी उत्साह है तथा पलक पावड़े बिछाकर इसके स्वागत को आतुर है।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education