mobilenews
miraj
pc

विद्यार्थियों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण का निर्माण अति-आवश्यक

| August 2, 2017 | 0 Comments

उदयपुर। विज्ञान चेतना अभियान का आयोजन विज्ञान समिति एवं डॉ. यशवन्त कोठारी चेरिटेबल पब्लिक ट्रस्ट द्वारा विश्वविख्यात वैज्ञानिक डॉ. डी. एस. कोठारी की स्मृति में अवार्ड समारोह आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जे.पी. शर्मा थे।

शर्मा ने कहा कि बालक जन्म से ही जिज्ञासु होता है। विज्ञान की शिक्षा से उसमें चिन्तन और वैज्ञानिक दृष्टिकोण का निर्माण होता है। बालकों में वैज्ञानिक प्रतिभा के विकास एवं प्रोत्साहन के लिए इस प्रकार के आयोजन अत्यंत सहायक है।
ट्रस्ट के चेयरमेन डॉ. यशवन्त कोठारी ने बताया की विज्ञान चेतना के इस दो दिवसीय विशाल कार्यक्रम मे नगर के करीब 25 विद्यालयों एवं 150 विद्यार्थियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में संचार क्रांति से मानवीय सभ्यता एवं संस्कृति अत्यधिक दूषित हो रही है विषयक वाद विवाद प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक पक्ष-विपक्ष में विचार व्यक्त कर श्रोताओं को चिंतन-मंथन हेतु प्रेरित किया।
डॉ. कोठारी ने बताया कि उच्च प्राथमिक स्तर के विद्यार्थियों ने वैज्ञानिक सिद्धान्तों पर आधारित प्रयोग एवं मॉडल्स का प्रदर्शन कर दर्शकों को अचम्भित कर दिया। इस अवसर पर विज्ञान क्विज़ का भी आयोजन किया गया। इसके अंतर्गत विज्ञान प्रदर्शनी का अवलोकन कर विद्यार्थियों से मौखिक प्रश्नोत्तरी हुई। जिसके विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किये गये।
कार्यक्रम समन्वयक प्रकाश तातेड़ ने बताया कि विज्ञान क्विज़ प्रतियोगिता में राजकीय उ.मा. विद्यालय गोवर्धन विलास की इतिश्री यदुवंशी प्रथम, राजकीय बालिका विद्यालय जगदीश चौक की हर्षिता राठौड़ ने द्वितीय तथा राजकीय बा.उ.मा. विद्यालय, भूपालपुरा की अर्चना मीणा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम स्थान जाह्नवी पटेल, एवं द्वितीय स्थान पर साक्षी सक्सेना तथा तृतीय स्थान पर दीक्षिता माली रही। प्रयोग-प्रदर्शन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर देवांश गुप्ता, द्वितीय स्थान पर तनिष्क शर्मा रहे एवं 6 विद्यार्थियों को प्रोत्साहन पुरस्कार प्रदान किये गये। विजेता विद्यार्थियों को डॉ. यशवन्त कोठारी चेरिटेबल पब्लिक ट्रस्ट, उदयपुर की ओर से पारितोषिक, प्रमाण-पत्र व सभी प्रथम विजेताओं को रुपये ग्यारह सौ,द्वितीय को साढ़े सात सौ एवं तृतिय को रुपयें पंाच सौ रूपयें की राशि प्रदान की गई। अध्यक्षता विज्ञान समिति के संस्थापक डॉ. केएल कोठारी ने की। कार्यक्रम मे विज्ञान समिति के अध्यक्ष डॉ. केबी शर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष केपी तलेसरा ने विचार व्यक्त किये एवं डॉ. एलएल धाकड़ ने आभार व्यक्त किया।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education