mobilenews
miraj
pc

कैसे करें धन का सृजन, बताया विशेषज्ञों ने

| September 6, 2017 | 0 Comments

फोर्टी उदयपुर का सेमिनार

उदयपुर। फैडरेशन ऑफ राजस्थान ट्रेड एंड इंडस्ट्री (फोर्टी) उदयपुर द्वारा ‘औद्योगिक वित एवं धन सृजन‘ विषयक सेमिनार का आयोजन सरदारपुरा, पंचवटी स्थित चतुरबाग रेस्तरां में किया गया।

पहले सत्र में राजस्थान वित निगम उदयपुर के प्रबंधक जी सी जैन ने औद्योगिक वित विषय पर जानकारी देते हुए बताया कि उदयपुर के कई बड़े व्यवसायिक संगठनों ने अपनी शुरूआत राजस्थान वित निगम की योजनाओं के सहयोग से की। आज आरएफसी के अलावा भी कई संस्थाएं है जो औद्योगिक वित उपलब्ध करवा रही हैं लेकिन आरएफसी सबसे लम्बे समय से व्यावसायों को आगे बढ़ानें में अपना योगदान दे रही हैं।
उन्होनें होटल, हॉस्पीटल, सचूना क्षेत्र, पर्यटन आदि क्षेत्र में आरएफसी द्वारा उपलब्ध टर्म लोन, सेवा क्षेत्र की योजनाओं की दरों, अधिकतम ऋण सीमा, प्रक्रियाओं, रियायतों व लाभों के साथ योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आवश्यक योग्यताएं, आवेदक द्वारा लगाई जाने वाली पूंजी के बारे में विस्तृत जानकारी दी। वर्तमान ऋणियों के लिए टॉप अप योजना, गोल्ड कार्ड, प्लेटिनम कार्ड, फ्लेक्सी लॉन आदि के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि युवा उद्यमी योजना भी हैं जिसमें पैतालीस वर्ष की आयु सीमा में आने वाले युवा उद्यमी केवल 7.50 प्रतिशत पर ब्याज दर पर ऋण प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ हीं रीको से औद्योगिक भूमि प्राप्त करने में भी सुविधा दी जाती हैं। सरल ऋण योजना और युवा उद्यमी योजना श्रेष्ठ हैं। अन्य कोई वितीय संस्था या बैंक इतनी रियायती दरों पर ऋण नहीं देती।
रिलायन्स म्युचल फंड के रिज़नल ट्रेनिंग हेड मोहिन्दर कुमार ने वितीय सत्र में बचत व निवेश के मध्य अन्तर स्पष्ट करते हुए बताया कि किस प्रकार निवेश कर मुद्रा स्फीति के प्रभाव से बचा जा सकता हैं। साथ हीं उन्होने निवेश के अलग अलग विकल्पों स्थायी जमा, बचत खाता, स्वर्ण, शेयर बाजार आदि में निवेश की तुलनात्मक जानकारी देने के बाद म्युचल फंड में निवेश के सकारात्मक प्रभावों से अवगत कराया। पूंजी बाजार में प्रत्यक्ष निवेश के फायदे हैं लेकिन कई कठिनाइया भी हैं लेकिन म्युचल फंड के माध्यम से आसानी से इसका फायदा उठाया जा सकता हैं। म्युचल फंड में सबसे ज्यादा रिटर्न, तरलता, सुरक्षा और कर मुक्ति आदि लाभ मिलते हैं।
प्रारम्भ में संभागीय अध्यक्ष प्रवीण सुथार ने स्वागत उद्बोधन में बताया कि आरएफसी को लेकर व्यवसायियों के मन में आज भी भ्रांतियां हैं लेकिन समय के साथ इसका आधुनिकरण कर कार्यप्रणाली में कई सुधार कर दिए गए हैं। इसकी जानकारी देने के उददे्श्य से सेमिनार का आयोजन किया। उदयपुर के लिडिंग वितीय सलाहकार दिपेश पारीख ने चंडीगढ़ से आए रिलायन्स म्युचल फंड के रिज़नल ट्रेनिंग हेड मोहिन्दर कुमार का स्वागत कर दूसरे सेशन की शुरूआत की।
फोर्टी सलाहकार मनोज जोशी ने फोर्टी का संक्षिप्त परिचय दिया। सेमिनार के संयोजक एवं फोर्टी कोषाध्यक्ष निशांत शर्मा ने प्रथम सत्र का तो फोर्टी महासचिव शरद आचार्य ने सेमिनार के अन्त में आभार व्यक्त किया। फोर्टी कार्यकारी सदस्य विशाल दाधीच, राजेश शर्मा, इन्द्र कुमार सुथार, मनिष भानावत, अरविन्द अग्रवाल, अरूण सुथार ने अतिथीयों का स्वागत किया। उपाध्यक्ष लोकेश त्रिवेदी ने बताया कि व्यवसायियों के साथ शहर के गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education