mobilenews
miraj
pc

पांच वर्ष पूर्व रिचार्ज किया हैण्डपंप दे रहा भरपूर पानी

| October 9, 2017 | 0 Comments

उदयपुर। रोटरी क्लब हेरिटेज द्वारा पांच वर्ष पूर्व सीसारमा स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूल में लगे हेण्डपम्प को रूफ टॉप रेन वाटर हार्वेस्टिंग के साथ जोड़ा तो आज तक वह हेण्डपम्प बिना किसी रूकावट के सभी को पीने का पानी मुहैय्या करा रहा है।

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व इस हेण्डम्प का पानी गर्मियों में सूख जाता था या फिर बहुत कम हो जाता था। स्कूल के बच्चे और सामने दुकान वालांे को पानी की इससे बहुत दिक्कत हुआ करती थी ।
क्लब अध्यक्ष वसन्त खमसेरा ने विद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में बताया कि तब वर्ष 2012-13 में रोटरी क्लब उदयपुर हेरिटेज के अध्यक्ष अनुभव लडिया और सचिव दीपक सुखाडिया ने रूफ टॉप रेन वाटर हार्वेस्टिंग पर पिछले कई वर्षो से काम कर रहे डॉ पी. सी. जैन को क्लब के सेवा कार्यो से जोड़ते हुए इस हैण्डपंप को दिखाया। डॉ जैन ने स्कूल और आसपास के दुकानदारो को इस हैण्डपंप को वर्षाजल जो स्कूल की छतों पर गिर रहा था उससे इसको रिचार्ज करने के लाभ बताकर तैयार किया।
खमेसरा ने बताया कि उसी वर्ष वर्षा काल से पूर्व इसे देवास वाटर फिल्टर से छतों से उतरने वाले पाइप से जोड़ दिया और जब भी बरसात होती ये हैण्ड पंप रिचार्ज होता गया और एक मृत प्राय हैण्डपंप पुन जीवित हो गया। प्रदेश में किसी राजकीय विद्यालय का यह पहला हैण्डपंप में है जो इस विधि से रिचार्ज किया गया और आज तक कार्य कर रहा हैं।
अध्यक्ष वसंत खमेसरा, सचिव आशीष भटनागर, चार्टर अध्यक्ष एवं निदेशक डॉ दीपक शर्मा और जल सरक्षण प्रेरक डॉ. पीसी जैन ने स्कूल को “वर्षा जल सरक्षण मित्र“ घोषित किया। इस अवसर पर उपस्थित विद्यार्थियों, शिक्षकों एव अन्य सभी ग्रामवासियों से अपील की कि हर सूख चुके हैण्डपंप इस सरल और सहज तकनीक से रिचार्ज किया जाएं तो वे पुनर्जीवित हो जायेंगे। इससे न केवल भूमिगत जलस्तर बढेगा वरन् शुद्ध पेयजल भी उपलब्ध होगा। डॉ, दीपक शर्मा ने छात्रों को प्राकृतिक संसाधनों को भविष्य के लिए बचाने की अपील की।
क्लब सचिव आशीष भटनागर ने सभी भवनो की छतो पर वर्षा जल सग्रहण सयत्रो की स्थापना तथा इस हेतु जन अभियान मे रोटरी हेरिटेज की ओर से पुर्ण सहयोग की पेशकश की। अध्यक्षता करते हुए रो.वसंत खमेसरा ने रोटरी क्लब हेरिटेज की गतिविधियो का सक्षिप्त विवरण देते हुए सभी से स्वच्छ भारत अभियान मे सहयोग की अपील की।
डॉ. पीसी जैन ने सभी को नशा न करने और जल को बचाने के लिए और स्वछता बनाए रखने हेतु प्रेरित किया। डॉ पी .सी जैन ने छात्रों को जल सरक्षण साथ ही साथ नशा विशेष तम्बाखू ,गुटखा से दूर रहने और छुडाने के उपाय भी बताये और सबने मिलकर जल और नशे पर दो गीतिका प्रस्तुत की गई। संचालन विद्यालय प्राध्यापक कृष्णकान्त शर्मा ने किया।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education