mobilenews
miraj
pc

शहर की प्रतिभाओं को पक्की हिरोगिरी में देखने का मिलेगा अवसर

| November 9, 2017 | 0 Comments

राजस्थानी फिल्म का प्रदर्शन आज से अशोका सिनेमा में

उदयपुर। थ्री ब्रदर्स फिल्म के बैनर तले बनी राजस्थानी फिल्म पक्की हिरोगिरी पिछले दिनों पूरे राजस्थान में एक साथ रिलीज की गई। जो पूरे राजस्थान में धूम मचा रही है। उदयपुर में राजस्थानी फिल्म को बढ़ावा देने हेतु 10 नवम्बर को इसका प्रदर्शन अशोका सिनेमा में किया जाएगा।

फिल्म निर्माता हितेश कुमार एवं एम एम गुप्ता ने आज यंहा आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि राजस्थानी फिल्म को बढ़ावा देने एवं शहर की प्रतिभाओं को आमजन के समक्ष लाने के लिये पक्की हिरोगिरी नामक राजस्थानी फिल्म का निर्माण किया गया। जहंा पूर्व में हिन्दी में आयी ओ माई गोड में जहंा फिल्म में जहंा धर्म पर कटाक्ष को दिखाया गया वहीं उसके विपरीत इस पक्की हिरोगिरी फिल्म में धर्म के प्रति आस्था को दिखा गया है।
निर्देशक सुनीत कुमावत ने बताया कि फिल्म कहानी के अनसुार फिल्म का नायक अरविन्द कुमार जो जीवन में अपना सब कुछ खो देता है और उसके बाद वह नास्तिक बन जाता है। उसका ईश्वर से विश्वास उठ जाता है। ईश्वर का कहना है कि हम तुम्हें तुम्हारे कर्मों के आधार पर स्वर्ग या नर्क देंगे लेकिन नायक भगवान को चुनौती देता है कि कर्मो का हिसाब बाद में करना पहले आपकी बनायी हुई धरती पर एक बार का मनुष्य का जीवन बिता कर दिखाओ, तब हम जानेंगें कि स्वर्ग या नर्क क्या होता है।
फिल्म के नायक अरविन्द कुमार ने ही इसकी पटकथा लिखी है। इसके मुख्य सह निर्देशक उदयपुर के गिरीश वैष्णव तथा अन्य सह-निर्देशक हितेश सोलंकी, दिपेश गौड है। इसके निर्माता हितेश कुमार के अलावा फिल्म में प्रभु गुर्जर,प्रकाश रंाका, गजेन्द्र भण्डारी, सुखचैनसिंह कण्डा, धु्रव निनामा,जयसिंह राजपुरोहित, सुनील हेडा, अशोक बाफना, अशोक कश्यप है। फिल्म में जहंा संगीत आदित्य गौड का है वहीं इसके गीत सुधाकर शर्मा, कैलाश मण्डेला ने लिखे है जिन्हें राजा हसन, स्वरूप खान,पामेला जैन, शाहिद माल्या, शौरीन भट्ट,मोहित गौड, भावना पंडित, संत अभिदास, हेमलता चौहान ने अपना स्वर दिया।
फिल्म के कलाकारों में मुख्य नायिका भाबो फेम नीलू, अरविन्द कुमार, राजा हसन, राखी, हितेष कुमार, कॉमडी सर्कस फेम वीआईपी, सुरेन्द्र पाल, रज़ा मुराद, अली खान, लाफ्टर चैलेंज के प्रतिभागी सुरेश अलबेला, धु्रव निनामा, दिनेश कौशिक, उषा जैन, हेमा, अंकुर उपाध्याय, निखिल जैन व नटवर पराशर ने अपनी-अपनी भूमिका के साथ पूर्ण न्याय करते हुए शानदार अभिनय किया है।
फिल्म का बहुत ही सुन्दर तरीके से फिल्मांकन किया गया है। जो देखते ही बनते है। मुख्य सह निर्देशक गिरीश वैष्णव ने बताया कि राजस्थानी फिल्म को प्रमोट करने के लिये इसके टिकिट भी रियायती दर पर ही रखे गये है। यदि यहंा पर फिल्मसिटी खुलती है तो यहंा पर बनने वाली फिल्मों की लागत में काफी कमी आएगी। सरकार को इस पर अवश्य विचार-विमर्श करना चाहिये।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education