mobilenews
miraj
pc

ग्रामीण परिवेश की यथार्थ स्थिति से रूबरू कराया नाटक ’परिवर्तन’ ने

| April 14, 2018 | 0 Comments

राणा पूंजा महाविद्यालय का वार्षिकोत्सव

उदयपुर। राजस्थान वनवासी कल्याण परिषद द्वारा संचालित राणा पूंजा महाविलयीन जनजाति छात्रावास के टाउनहाॅल स्थित रंगमंच पर आयोजित वार्षिकोत्सव में छात्रावास एवं वनवासी कलयाण परिषद की नगर समिति के सदस्यों द्वारा ग्रामीण परिवेश की यथार्थ स्थिति पर मंचित किये हनाटक परिवर्तन ने हाॅल में मौजूद हर शख्स को झकझोर दिया।

परिवर्तन नाटक यह दिखानें सफल रहा कि आज भी कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में की स्थिति में सुधार नहीं के बराबर दिखाई देते है। आज भी गंावो में पत्नी मजदूरी करती है और पति शराब में उसकी मजदूरी के पैसे उड़ा देता है। गंावो में बालिका शिक्षा को बढ़ावा कम देखने को मिलता है। एक पिता कर्जे के बोझ तले इतना दबा हुआ है कि वह अपने बेटे को दसवीं की परीक्षा का फॅार्म नहीं भरा सकता है।
हिन्दी एवं मेवाड़ी भाषा के मिश्रण में मंचित किये गये इस नाटिका में गांव की यथार्थ स्थिति का मार्मिक चित्रण किया गया। नाटिका के दूसरे भाग में गंाव के ही वनवासी छात्रावास में पढ़ा लिखा बालक रामशंकर आज इतना पढ़ गया कि वह गांव के लोगों की मदद कर गांव मे ंपरिवर्तन की लहर ला रहा है और इससे गांव का आर्थिक एवं सामजिक विकास बढ़ता चला जा रहा है। रामश्ंाकर ने गांव के ही बच्चों को इतना पढ़ाया लिखाया कि यहंा के बच्चें चिकित्सक, इंजीनियर, शिक्षक बन कर गांव के विकास में भागीदारी निभा रहे है।
नाटिका में बालक से लेकर वृद्ध महिला तक ने अपने पात्र के साथ पूरा न्याय किया। जिसका हाल में मौजूद हर व्यक्ति ने तालियों की दाद दे कर उसका उत्साहवर्धन किया। नाटिका के निर्देशक दीपक दीक्षित,लेखिका राधिका थी। सूत्रधार की भूमिका राजेश शर्मा ने निभायी। इसके अलावा नाटिका में संजय कोठारी, विपिन लोढ़ा, अशोक जैन,कैलाश मेनारिया, मीता, अपला, चन्द्रेश बापना, शकुन्तला, चित्रा, अर्चना, नीता, विमला,नीलम, भारती, वृन्दा, सोम्या व कार्तिक सहित छत्रावास के बच्चों ने भाग लिया।
समारोह के मुख्य अतिथि डूंगरपुर नगर परिषद के सभापति के.के.गुप्ता ने कहा कि आज भी वनवासी कल्याण परिषद को लाइमलाईट में लाने की आवश्यकता है। डूंगरपुर परिषद ने 130 बालिकाओं को गोद लेकर उनके सर्वांगिण विकास का जिम्मा ले रखा है। समारोह के विशिष्ठ अतिथि उद्यमी सीएस राठौड़ थे जबकि अध्यक्षता डा. एसएल बामणिया ने की।
कार्यक्रम मे सहरिया क्षेत्र के बालकों द्वारा स्वांग नत्य द्वारा दर्शकों का मंनोरंजन किया गया। अखिल भारतीय वनवासी कल्याण आश्रम के उत्तर क्षेत्र संगठन मंत्री श्री भगवान सहाय जी ने कल्याण आश्रम के भारतवर्ष मे संचालित कार्यों की जानकारी दी। कार्यक्रम में राजस्थान वनवासी कल्याण परिषद के प्रदेश संगठन मंत्री श्री राजाराम जी, प्रदेश महामंत्री श्री गोपाल जी , प्रदेश मंत्री श्री सुंदर जी कटारिया एवं परिषद् के कार्यकर्ता उपस्थिति रहे। प्रारम्भ में परिषद के गोपाल कुमावत ने परिषद द्वारा संचालित गतिविधियों की जानकारी दी। संचालन राधिका एव अनिता शर्मा ने किया।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education