mobilenews
miraj
pc

उमंग के लिए सेवा सर्वोपरि: श्रीमाली

| April 21, 2018 | 0 Comments

जेएसजी उमंग का शपथ ग्रहण
बेस्ट प्रेसिडेंशियल अवार्ड के लिए अभिषेक संचेती का अभिनंदन

उदयपुर। नगर विकास प्रन्यास के चेयरमैन रवींद्र श्रीमाली ने कहा कि सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे संतु निरामया की भावना से काम करना जैन समाज का काम है। गत वर्ष उमंग द्वारा 18 कार्यक्रम संपादित करना अपने आप में गर्व करने वाला है। रामचरितमानस में भी सेवा को सर्वोपरि माना गया है। उमंग अपने कार्यों में सफल हो, जिस उद्देश्य को लेकर स्थापना हुई है, वे पूरे करें।

वे शनिवार शाम जैन सोश्यल ग्रुप उमंग के खचाखच भरे रोटरी बजाज भवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह को संबोधित कर रहे थे। उ होने नई कार्यकारिणी को शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि फत्तावत स्वयं संकल्पबद्धता के धनी हैं। जैन समाज के कई कार्यक्रमों का मैं साक्षी रहा हूँ। एक दूसरे से जुड़कर समाज और देश का विकास कैसे करें, इस पर सभी को मंथन करना चाहिए। आज यहां महिलाएं भी उतनी ही संख्या में हैं, यह देखकर लगता है कि उमंग में पूरी तरह पारिवारिक माहौल मिलता है।
अध्यक्षता करते हुए तेरापंथ मेवाड़ कांफ्रेंस के अध्यक्ष राजकुमार फत्तावत ने कहा कि एक वर्ष पूर्व पदस्थापना समारोह का मैं साक्षी रहा हूँ। स्व. दक का स्मरण करना, उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पण हमारा कर्तव्य और दायित्व है। 8 वर्ष पूर्व उन्होंने एक ऐसा पौधा लगाया गया। आठवें वर्ष उनके द्वारा चयनित युवा अध्यक्ष अभिषेक ने इंटरनेशनल लेवल पर बेस्ट प्रेसिडेंशियल अवार्ड प्राप्त किया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ग्रुप उमंग के साथ जैन समाज का नाम रोशन किया। 1500 से अधिक दंपती जेएसजी से जुड़कर जैन समाज के लिए कार्य कर रहे हैं, यह सराहनीय है। आने वाले वर्ष में नई कार्यकारिणी नए कीर्तिमान स्थापित करेगी, यही विश्वास है। विपरीत हवा के काम करने वालों में उमंग ने गत वर्ष बच्चों को संस्कारित करने का काम किया। आज के बच्चे इंटरनेट, टीवी, कम्प्यूटर के आदी हो गए हैं। ऐसे में उमंग ने जो काम किया, वो प्रशंसनीय है। आज यहां से संकल्प करके जाएं कि बच्चों को संस्कारित करेंगे। इसी वर्ष हमारे यहां रीजन बना है। उमंग के साथ रीजन का भी नाम हो, हर सदस्य स्वयम को अध्यक्ष, सचिव मानकर कार्य करें तो ग्रुप का नाम स्वतः आगे बढ़ेगा।
मुख्य वक्ता जेएसजी मेवाड़ रीजन के पीआरओ राजमल जैन थे।। नई कार्यकारिणी में अभिषेक संचेती अध्यक्ष, प्रदीप सोनी उपाध्यक्ष, रवि बारोला सचिव, दिलीप करणपुरिया कोषाध्यक्ष, राजन बया सह कोषाध्यक्ष एवं शरद कारवां पूर्व अध्यक्ष के रूप में शपथ ली।
सदस्यों के रूप में प्रवीण पगारिया, राजेश सिंघवी, प्रवीण नवलखा, अनिल डांगी, कार्तिक सिंघवी, लोकेश जावेरिया, नितेश दोषी, विजयलक्ष्मी गलुण्डिया, आशीष बांठिया, पीयूष चोरडिया, चंदन बड़ाला, देवेन्द्र मिण्डा, राखी मिण्डा, अजीत जैन, दिनेश चोरडिया, राजेष भादविया, नम्रता नलवाया, सतीष हिंगड़, रितु लोढ़ा, धीरेन्द्रसिंह मेहता, मनीष चण्डालिया, मनीष गलुण्डिया, दिनेष मेहता, दीपिका चपलोत को शामिल किया गया।
नवमनोनीत अध्यक्ष अभिषेक संचेती ने शब्दों से स्वागत कर संस्थापक स्व. सुंदरलाल दक को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि पिछला वर्ष स्वर्णिम वर्ष रहा। फेडरेशन ने पिछले 8 सालों में गत वर्ष बेस्ट प्रेजिडेंट का अवार्ड ग्रुप को दिया। बेस्ट इमेज बिल्डिंग का रीजन की ओर से अवार्ड भी दिया गया। पावर कार्ड लांच किया गया जिसके तहत सदस्यों और उनके परिजनों ने हॉस्पिटल, जांच केंद्र, रेस्टोरेंट्स आदि में लाभ उठाया। सेवा के साथ सदस्यों में बंधुत्व की भावना बनी रहे, इसके लिए भी ग्रुप ने काम किया। जेएसजी उमंग का नाम पूरे फेडरेशन में सम्मान से लिया जाता है। गत वर्ष मेरे अध्यक्षीय कार्यकाल में आप सभी ने जिस तरह सपोर्ट किया, इस वर्ष भी आपसे ऐसी ही उम्मीद है।
आरम्भ में अतिथियों का उपरना ओढा स्मृति चिन्ह भेंटकर अभिनंदन किया गया। अतिथियों ने नव निर्वाचित कार्यकारिणी को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। आरम्भ में नवकार महामंत्र का जप और कार्यक्रम का संचालन विजयलक्ष्मी गलुण्डिया ने किया। आभार व्यक्त करते हुए सचिव रवि बारोला ने गत वर्ष का प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि गत वर्ष 4 अप्रेल को महावीर जयंती पर फतहसागर पाल पर सामूहिक नवकार महामंत्र का जप और 1008 दीपों से महाआरती की गई। बच्चों के मनोरंजन और विकास के लिए भी कई कार्यक्रम किये गए। ट्रेकिंग भी की गई।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education