mobilenews
miraj
pc

महाराणा प्रताप फिल्म को लेकर रोड शो 24 को

| January 23, 2012 | 0 Comments

पत्रकारों को जानकारी देते डॉ. कुमावत व अन्‍य।

udaipur. आलोक संस्कार विजन फिल्म्स एवं आलोक ऑडियो विज्यूअल्स प्रा.लि. के बैनर तले बनी फिल्म ‘महाराणा प्रताप : दी फस्र्ट फ्रीडम फाइटर’  के संगीत के लोकार्पण के बाद मंगलवार को चेटक पर रोड़ शो किया जाएगा।
फिल्म के निर्देशक डॉ. कुमावत ने कहा कि प्रश्नो तरी होगी। इससे पूर्व मोती मगरी स्थित प्रताप स्मारक पर पुष्पांजलि की जाएगी। रैली के साथ चेटक सर्कल स्थित चेटक के समक्ष पहुँचेंगे जहाँ श्रोताओं को महाराणा प्रताप के जीवन पर आधारित ३० प्रश्न  पूछे जाएंगे। सही उत्तर देने वाले प्रतिभागीयों को ’महाराणा प्रताप: दी फस्र्ट फ्रीडम फाइटर‘ फिल्म के संगीत की सीडी भेंट स्वरूप प्रदान की जाएगी। उन्होंने बताया कि फिल्म सेन्सर बोर्ड के पास है और शीघ्र ही देश के सिनेमाघरों में प्रदर्शित की जाएगी।
डॉ. कुमावत ने जानकारी देते हुए बताया कि महाराणा प्रताप के जन्म के ४७१ वर्_ा पूर्ण होने के बाद आज तक महाराणा प्रताप पर कोई फिल्म नहीं बन पाई। कईं बार सीरियल बनाने के प्रयास हुए व कईं बार फिल्म बनाने के प्रयास हुए लेकिन सब बेकार। पहली बार यह महाराणा प्रताप की फिल्म सिनेमाघरों में जाने के लिए तैयार है।
डॉ. कुमावत ने कहा कि इस फिल्म को विश्वर स्तर का बनाने के लिए मुम्बई के विभिन्न स्टुडियो में तकनीकि दृष्टि से श्रेष्ठा कार्य किए गए हैं। फिल्म का संगीत उदयपुर के जाने—माने संगीतकार डॉ. प्रेम भण्डारी ने दिया जबकि म्यूजिक अरेंजर एसोएियेट्स के रूप में अविनाश चन्द्रचूड़ एवं मराठी संगीत निर्देशक विश्वेजीत जोशी ने संगीत दिया है।
गजल गायक जगजीत सिंह ने फिल्म का एक महत्वपूर्ण गाना ‘याद आएगा हमें छोड़ के जाने वाला……’ गाया है। साथ ही फिल्म्ज‍ सांवरिया से हिट हुए शैल हाड़ा ने ‘भारत के रणवीरों को…….’ और ‘मायड़ थारो पूत कठै…..’ दो गाने गाए हैं। ‘पग घुँघरू बाँध मीरा…….’ गाना साधना सरगम ने गाया है जबकि ‘वीर प्रताप की देखो ये अमर कहानी…..’ रूप कुमार राठौड़ ने। ‘राणा धीर धरम रखवाला…….’ डॉ. प्रेम भण्डारी ने, ‘ये लहू रोती हुई शाम…….’ भूपेन्द्र ने तथा ‘नीला घोड़ा रा असवार…….’ और ‘अपने मालिक के इशारों को समझने वाला…….’ ये दोनों गीत रूप कुमार राठौड़ ने गाए हैं। कुल 9 गानों के इस एलबम में जो माटी की सुगन्ध है वो इन गीतों व संगीत से निकलकर आती है।
इस अवसर पर डॉ. कुमावत ने फिल्म के विषय में कई रोचक प्रसंग बताए। संगीत निर्देशक डॉ. प्रेम भण्डारी ने बताया कि फिल्म के संगीत में मेवाड़ की सुगन्ध को लिया गया है।
hindi news

udaipur news

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education