mobilenews
miraj
pc

आयड़ का ऐतिहासिक स्वरुप लौटाने का कर रहे प्रयास : कटारिया

| October 2, 2017 | 0 Comments

गांधी जयंती पर प्रारम्भ हुआ आयड़ सफाई अभियान
विभिन्न विभागों, संस्थानों व आमजन के सहयोग से लौटेगी आयड़ की रौनक

उदयपुर। शहर के बीच से गुजरने वाली प्राचीन नदी का ऐतिहासिक महत्व है। इसे अपने ऐतिहासिक स्वरुप लौटाकर न केवल इसे संरक्षित कर सकते हैं बल्कि पर्यटन के लिहाज से शहर को एक नई सौगात दे सकते हैं। यह बात गांधी जयंती के अवसर आयड़ सफाई अभियान का आगाज़ करते हुए गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कही। मंगलवार को एक साथ आठ स्थानों पर आयड़ सफाई अभियान का शुभारंभ हुआ।

एक सादे समारोह को संबोधित करते हुए कटारिया ने कहा कि कभी आहाड़ सभ्यता की जीवनदायिनी रही आयड़ नदी के वर्तमान स्वरुप को बदलने के लिए लंबे समय से प्रयास चल रहे थे। नदी के पुनरुद्धार के पहले चरण में सफाई अभियान के माध्यम से इसका मूल स्वरुप सामने लाया जा रहा है। इसके लिए विभिन्न उद्यमी घराने मशीनरी एवं लेबर का सहयोग कर रहे हैं। आमजन भी श्रमदान करके अभियान को सफल बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं। कटारिया ने कहा कि पहले चरण के पश्चात अगले चरण में इसके सौंदर्यीकरण की योजना पर कार्य किया जाएगा। समारोह को सांसद अर्जुन लाल मीणा, उदयपुर ग्रामीण विधायक फूल सिंह मीणा, यूआईटी अध्यक्ष रवींद्र श्रीमाली, जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक उप महापौर लोकेश द्विवेदी उद्यमी सलिल सिंघल ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर नगर निगम निर्माण समिति अध्यक्ष पारस सिंघवी, पार्षदगण, यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता, नगर निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग सहित विभिन्न उद्यमी संस्थानों के प्रतिनिधि व बड़ी संख्या में गणमान्य लोग मौजूद रहे।

संरक्षण हेतु विधायक मद से 10-10 एवं सांसद मद से 20 लाख
अपने संबोधन में कटारिया ने कहा कि सफाई के बाद अगले चरण में आयड़ के संरक्षण और फिर सौंदर्यीकरण का कार्य किया जाएगा। दोनों ओर पक्की दीवार बनाकर उस पर जाली लगाने के कार्य हेतु कटारिया एवं ग्रामीण विधायक फूलसिंह ने अपने विधायक मद से 10-10 लाख रुपए देने की घोषणा की। सांसद अर्जुनलाल मीणा ने इस हेतु 20 लाख की घोषणा की। शेष राशि नगर निगम एवं यूआईटी मिलकर वहन करेंगे। कटारिया ने कहा कि लोग भविष्य में नदी में गंदगी न डाले इस हेतु पुख्ता इंतजाम करने होंगे।

जिला कलक्टर ने की अपील
कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक ने समारोह को संबोधित करते हुए शहर के नागरिकों से अपील की कि वे आयड़ में किसी प्रकार का कचरा व गंदगी नही डाले। नदी किनारे बने घरों, होटलों एवं विभिन्न संस्थानों के मालिकों से अपील करते हुए कहा कि आयड़ को साफ रखने में अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होने सफाई अभियान में सहभागी विभिन्न उद्यमी घरानों, होटल इंडस्ट्री, विभिन्न संगठनों एवं आमजन का आभार व्यक्त किया।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , , , ,

Category: Featured

Leave a Reply

udp-education