mobilenews
miraj
pc

एसएमई प्लेटफॉर्म पर ज्यादा से ज्यादा कंपनियों के सूचीबद्ध होने की उम्मीद

| February 13, 2018 | 0 Comments

केंद्रीय बजट, 2018 में एमएसएमईज को बढ़ावा देने हेतु उठाए गए कदमों की प्रशंसा की

उदयपुर। एसएमई आईपीओ प्लैटफॉर्म के एक अग्रणी मर्चेंट बैंकर गिनीज कॉरपोरेट एडवाइजर्स प्रायवेट लिमिटेड के प्रमोटर कमल कोठारी ने इस बजट भाषण में केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा हाल ही में किए गए प्रावधानों की प्रशंसा की है।

इन प्रावधानों से एमएसएमईज को भारी बढ़ावा मिलेगा। बजट में 250 करोड़ रुपए से ज्यादा के टर्न ओवर वाली कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स दर में 25% की कटौती का प्रस्ताव तथा ऋण समर्थन, पूंजी और ब्याज सब्सिडी के साथ-साथ अभिनवता की प्रेरणा देने हेतु एमएसएमई सेक्टर के लिए 3,794 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। ये दोहरे उपाय एमएसएमईज की समूची श्रेणी के लिए लाभकारी सिद्ध होंगे। नॉन-परफॉर्मिंग असेट्स तथा एमएसएमईज के बट्टा खातों को उबारने के लिए शीघ्र ही घोषित होने जा रहे उपायों से आगे चलकर एमएसएमईज का अधिक वित्तपोषण हो सकेगा तथा उनके सामने मुंह बाए खड़ी नकद-प्रवाह की चुनौतियां भी आसान हो जाएंगी।
इसके अतिरिक्त वर्ष 2018-19 के लिए मुद्रा (माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रीफाइनैंस एजेंसी) के तहत बांटे जाने वाले ऋणों का लक्ष्य 3 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ाए जाने का प्रस्ताव, बैंकों द्वारा शीघ्र निर्णय लिए जाने हेतु एमएसएमईज के लिए ऑनलाइन ऋण मंजूरी सुविधा, ट्रेड इलेक्ट्रॉनिक रिसीवेबल डिस्काउंटिंग सिस्टम (ट्रेड्स) में पीएसयू बैंकों तथा कॉरपोरेट्स को लाना और इसे वस्तु एवं सेवा कर टैक्स नेटवर्क (जीएसटीएन) के साथ जोड़ना- ये तमाम उपाय काफी हद तक व्यापार करने में आसानी उत्पन्न करेंगे।
आधार की ही तरह हरेक उद्यम को एक विशिष्ट पहचान उपलब्ध कराने की योजना भी इस सेक्टर के लिए लाभदायक सिद्ध होगी।
बजट पर राय जाहिर करते हुए श्री कमल कोठारी ने कहा- “ऊपर गिनाए गए तमाम उपाय एसएमईज के लिए बड़े फायदे का सौदा साबित होंगे क्योंकि इन उपायों से कमाई में वृद्धि के अलावा निवेशकों की एसएमई प्लैटफॉर्म पर सूचीबद्ध कंपनियों में निवेश करने की दिलचस्पी पैदा होगी।
इन उपायों का सबसे ज्यादा लाभ हमें प्राप्त होगा क्योंकि दोनों एक्सचेंजों पर एमएसएमईज को सूचीबद्ध कराने के लिए हम उनके साथ काफी नजदीक से काम करते हैं। इससे निश्चित ही एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध होने जा रही एमएसएमईज की संख्या भी बढ़ेगी।”
गिनीज कॉरपोरेट एडवाइजरी सर्विसेज के बारे में : सेबी में पंजीकृत कैटेगरी I मर्चेंट बैंकर गिनीज कॉरपोरेट एडवाइजर्स प्रायवेट लिमिटेड आईपीओ सेवाओं के क्षेत्र में एक दिग्गज खिलाड़ी बन कर उभरी है। इसका दायरा सूचीबद्ध होने के पूर्व की स्थिति से ही एसएमई का हाथ थाम लेने से लेकर प्लैटफॉर्म पर सूचीबद्ध होने और सूचीबद्ध होने के बाद इन एमएसएमईज का मार्गदर्शन करने तथा अंडरराइटर के रूप में कार्य करने तक फैला हुआ है। गिनीज कॉरपोरेट एडवाइजर्स सूचीबद्ध हो चुकी 336 एमएसएमईज में से 40 से ज्यादा एमएसएमईज का मर्चेंट बैंकर रहा है। इसके अलावा यह जल्द ही खुलने जा रहे एसएमई प्लैटफॉर्म के लगभग 85 करोड़ रुपए वाले विशालतम आईपीओ का मर्चेंट बैंकर भी है।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education