mobilenews
miraj
pc

मुख्यमंत्री को वंदेमातरम् का न्योता, स्कूलों में स्पर्धाएं शुरू

| October 5, 2016 | 0 Comments

हिन्दू अध्यात्म एवं सेवा संगम-2016

051005उदयपुर। हिन्दू अध्यात्म एवं सेवा संगम के तहत 8 नवम्बर को फतहसागर की पाल पर होने वाले वंदेमातरम् कार्यक्रम के लिए बुधवार को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को न्योता दिया गया।

प्रचार संयोजक मनोज जोशी ने बताया कि यहां भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में आईं मुख्यमंत्री राजे से संगम के सचिव हेमेन्द्र श्रीमाली, कोषाध्यक्ष सीए महावीर चपलोत, प्रशासनिक समिति के संयोजक अजय गर्ग आदि ने मुलाकात की। मुख्यमंत्री को कार्यक्रम की रूपरेखा बताई गई। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों जयपुर में हुए अध्यात्म सेवा संगम में भी मुख्यमंत्री ने शिरकत की थी।
हिन्दू अध्यात्म सेवा संगम उदयपुर में 10 से 13 नवम्बर तक बीएन विश्वयविद्यालय मैदान में होगा। इससे पहले स्कूल व कॉलेजों में होने वाली प्रतियोगिताओं की शुरुआत हो चुकी है। स्कूली प्रतियोगिताओं के संयोजक सत्यप्रकाश मूंदड़ा ने बताया कि बुधवार को न्यू भूपालपुरा स्थित सेंट्रल पब्लिक स्कूल में भाषण प्रतियोगिता हुई। इस कार्यक्रम की अतिथि ममता वर्मा थी। निर्णायक की भूमिका मुक्ता व्यास व रानू सिंघवी ने निभाई। बाल वर्ग का विषय वर्तमान समय में संयुक्त परिवार की उपयोगिता था।
कल्याणजी-आनंदजी व बबला षाह आएंगे वंदेमातरम् में : संगम से पूर्व 8 नवम्बर को उदयपुर की फतहसागर की पाल पर वंदेमातरम् गायन का विहंगम कार्यक्रम होगा। संयोजक डॉ. प्रदीप कुमावत ने बताया कि इसमें 50 हजार छात्र-छात्राएं सम्पूर्ण वंदेमातरम् का गायन करेंगे। नगर निगम भी इस कार्यक्रम में भागीदारी निभाएगा। कार्यक्रम सुबह 8.30 बजे शुरू होगा। इसमें देश के प्रसिद्ध संगीत समूह कल्याणजी-आनंदजी एवं बबला शाह देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति देंगे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी आने की सहमति प्रदान की है। फतहसागर की पाल के दोनों ओर नीमज माता पहाड़ी और मोती मगरी पर वनवासी बंधु तिरंगा लिए खड़े होंगे। 11.30 बजे सामूहिक वंदे मातरम् गायन होगा।
12 से विवेकानंद रथ यात्राएं  : -संगम के सचिव हेमेन्द्र कुमार श्रीमाली ने बताया कि 12 से 23 अक्टूबर तक शहर में विवेकानंद रथयात्राएं निकाली जाएंगी। इसके लिए छह रथ तैयार किए जा रहे हैं। सुबह से अपराह्न तक ये रथ कॉलेज व स्कूलों में जाएंगे तथा शाम को शहर की विभिन्न बस्तियों में पहुंचेंगे। इन रथों के माध्यम से इस संगम का उद्देश्य  और महत्व आमजन को बताया जाएगा।

Print Friendly, PDF & Email
Share

Tags: , , ,

Category: News

Leave a Reply

udp-education